Gautama Buddha Quotes, Thoughts in Hindi | गौतम बुद्ध के महान विचार

By | April 11, 2018

Gautama Buddha Quotes, Thoughts in Hindi

Quotes, Thoughts in Hindi | गौतम बुद्ध के महान विचार

गौतम बुद्ध (Gautama Buddha), जिन्हें सिद्धार्थ गौतम (Siddhartha Gautama), शाक्यमुनि बुद्ध (Shakyamuni Buddha), या बुद्ध (Buddha) के नाम से भी जाना जाता है, बुद्ध के पद के बाद वह एक तपस्वी और संत भी थे, जिनकी शिक्षाओं के आधार पर बौद्ध धर्म की स्थापना हुई।आज के समय में बुद्ध धर्म (Buddhism) विश्व के प्रमुख धर्मों में से एक है जिसको कई देशों में माना जाता है। महात्मा बुद्ध को मानने वालों के लिए उनके प्रेरणादायक विचार किसी खजाने से कम नहीं है। विश्व के करोड़ों लोगों ने महात्मा बुद्ध के विचारों को अपने जीवन में उतार कर के सुखद जीवन यापन करने का प्रयास किया है और कर रहे हैं।

[amazon_link asins=’0143331779′ template=’ProductAd’ store=’booksword-21′ marketplace=’IN’ link_id=’08a63603-3d3d-11e8-86a6-db35a3d55277′][amazon_link asins=’0857388304′ template=’ProductAd’ store=’booksword-21′ marketplace=’IN’ link_id=’251fcb94-3d3d-11e8-a277-0717088101f2′]

Gautama Buddha Quotes, Thoughts in Hindi | गौतम बुद्ध के महान विचार

Please हमारें Facebook Page को Like करें।

1. तीन चीजें लंबे समय तक छुप नहीं सकती:- सूर्य, चंद्रमा और सत्य।

2. स्वास्थ्य सबसे बड़ा उपहार है, संतुष्टि सबसे बड़ा धन है, और विश्वास सबसे अच्छा रिश्ता है।

3. अतीत पर ध्यान न दें, भविष्य का सपना न देखें, मन का वर्तमान क्षण पर ध्यान केंद्रित करें।

4. शक की आदत सबसे खतरनाक है। शक लोगों को अलग कर देता है। यह दो अच्छे दोस्तों को और किसी भी अच्छे रिश्ते को बरबाद कर देता है।

5. हजारों खोखले शब्दों से अच्छा वह एक शब्द है जो शांति लाये।

6. अज्ञानी आदमी एक बैल के समान है। वह ज्ञान में नहीं, आकार में बढ़ता है।

7. हम जो सोचते हैं, हम बन जाते हैं।

8. जैसे की मोमबत्ती आग के बिना जल नहीं सकती, वैसे ही मनुष्य आध्यात्मिक जीवन के बिना नहीं रह सकता।

9. मन सब कुछ है, जो आप सोचते हैं आप बन जाते हैं।

10. क्रोध को पाले रखना गर्म कोयले को किसी और पर फेंकने की नीयत से पकडे रहने के सामान है, इसमें आप ही जलते हैं।

11. तुम जिस के पीछे पड़ते हो उसी को खो देते हो।

12. बुराई अवश्य रहनी चाहिए, तभी तो अच्छाई इसके ऊपर अपनी पवित्रता साबित कर सकती है।

13. मैं कभी नहीं देखता क्या किया गया है, मैं केवल ये देखता हूं कि क्या करना बाकी है।

14. आपको अपने क्रोध के लिए दंडित नहीं किया जाएगा, आपको अपने क्रोध से दंडित किया जाएगा।

15. आकाश में पूरब और पश्चिम का कोई भेद नहीं है, लोग अपने मन में भेदभाव को जन्म देते हैं और फिर यह सच है ऐसा विश्वास करने लगते हैं।

Please हमारें Facebook Page को Like करें।

16. सत्य के मार्ग पर चलते हुए कोई व्यक्ति दो गलतियां कर सकता है। एक, पूरा रास्ता तय न करना और दूसरा, इसकी शुरुआत भी न करना।

17. किसी जंगली जानवर की तुलना में एक कपटी और दुष्ट मित्र से अधिक डरना चाहिए, जानवर तो बस आपके शरीर को नुक्सान पहुंचा सकता है, पर एक बुरा मित्र आपकी बुद्धि को नुक्सान पहुंचा सकता है।

18. हज़ार खोखले शब्दों से बेहतर, वह एक शब्द है जो शांति लाता है।

19. चाहे आप जितने पवित्र शब्द पढ़ लें या बोल लें, वो आपका क्या भला करेंगे जब तक आप उन्हें उपयोग में नहीं लाते?

20. आपके पास जो कुछ भी है है उसे बढ़ा-चढ़ा कर मत बताइए, और ना ही दूसरों से ईर्ष्या कीजिये, जो दूसरों से ईर्ष्या करता है उसे मन की शांति नहीं मिलती।

21. कोई भी हमें नहीं बचाता बल्कि खुद को बचाता है कोई भी इसे कर नहीं सकता और कोई भी इसे करने की कोशिश ना करे। हमें स्वयं पथ पर चलना चाहिए।

22. जिस व्यक्ति का मन शांत होता है, जो व्यक्ति बोलते और अपना काम करते समय शांत रहता है, वह वही व्यक्ति होता है जिसने सच को हासिल कर लिया है और जो दुःख-तकलीफों से मुक्त हो चुका है।

23. बिना सेहत के जीवन जीवन नहीं है; बस पीड़ा की एक स्थिति है – मौत की छवि है।

24. उसने मेरा अपमान किया, मुझे कष्ट दिया, मुझे लूट लिया, जो व्यक्ति जीवन भर इन्हीं बातों को लेकर शिकायत करते रहते हैं, वे कभी भी चैन से नहीं रह पाते हैं। सुकून से वही व्यक्ति रहते हैं, जो खुद को इन बातों से ऊपर उठा लेते हैं।

25. अगर आप वास्तव में स्वयं से प्रेम करते हैं, तो आप कभी भी किसी को ठेस नहीं पहुंचा सकते।

26. हालांकि बहुत सारे पवित्र शब्द पढ़ते हैं, आप बोलते भी हैं अगर आप उन पर कार्य नहीं करते हैं तो वे आपके लिए क्या भला करेंगे?

27. शांति अन्दर से आती है, इसे बाहर मत ढूंढो।

28. अगर थोड़े से आराम को छोड़ने से व्यक्ति एक बड़ी खुशी को देख पाता है, तो एक समझदार व्यक्ति को चाहिए कि वह थोड़े से आराम को छोड़कर बड़ी खुशी को हासिल करे।

29. हमें हमारे सिवा कोई और नहीं बचाता. न कोई बचा सकता है और न कोई ऐसा करने का प्रयास करे. हमें खुद ही इस मार्ग पर चलना होगा

30. शरीर को अच्छी सेहत में रखना हमारा कर्तव्य है नहीं तो हम अपना मन मजबूत और स्पष्ठ नहीं रख पायेंगे।

Please हमारें Facebook Page को Like करें।

31. दुनिया के उद्धार के लिए मैं सत्य के राजा के रूप में दुनिया में पैदा हुआ था।

32. अगर व्यक्ति से कोई गलती हो जाती है, तो कोशिश करें कि उसे दोहराएं नहीं। उसमें आनन्द ढूंढने की कोशिश न करें, क्योंकि बुराई में डूबे रहना दुःख को न्योता देता है।

33. जीवन में आपका उद्देश्य अपना उद्देश्य पता करना है और उसमे जी-जान से जुट जाना है।

34. व्यक्ति खुद ही अपना सबसे बड़ा रक्षक हो सकता है; और कौन उसकी रक्षा कर सकता है? अगर आपका खुद पर पूरा नियंत्रण है, तो आपको वह क्षमता हासिल होगी, जिसे बहुत ही कम लोग हासिल कर पाते हैं।

35. पहुँचने से अधिक ज़रूरी ठीक से यात्रा करना है।

36. हर सुबह हम पुनः जन्म लेते हैं, हम आज क्या करते हैं यही सबसे अधिक मायने रखता है।

37. कोई भी व्यक्ति बहुत ज्यादा बोलते रहने से कुछ नहीं सीख पाता, समझदार व्यक्ति वही कहलाता है जोकि धीरज रखने वाला, क्रोधित न होने वाला और निडर होता है।

38. पवित्रता या अपवित्रता अपने आप पर निर्भर करती है, कोई भी दूसरे को पवित्र नहीं कर सकता।

39. शांतिप्रिय लोग आनंद से जीवन जीते हैं और उन पर हार या जीत का कोई प्रभाव नहीं पड़ता।

40. अपने बराबर या फिर अपने से समझदार व्यक्तियों के साथ सफ़र कीजिये, मूर्खो के साथ सफ़र करने से अच्छा है अकेले सफ़र करना।

41. सच्चा प्रेम समझ से उत्पन्न होता है।

42. प्रसन्नता का कोई मार्ग नहीं है, प्रसन्नता ही मार्ग है।

43. कोई भी व्यक्ति सिर मुंडवाने से, या फिर उसके परिवार से, या फिर एक जाति में जनम लेने से संत नहीं बन जाता; जिस व्यक्ति में सच्चाई और विवेक होता है, वही धन्य है, वही संत है।

45. अराजकता सभी जटिल बातों में निहित है. परिश्रम के साथ प्रयास करते रहो।

Please हमारें Facebook Page को Like करें।

46. ज्ञानी व्यक्ति कभी नहीं मरते और जो नासमझ हैं, वे तो पहले से ही मरे हुए हैं।

47. दर्द निश्चित है, दुख वैकल्पिक है।

48. किसी चीज पर यकीन मत करो, ये मायने नहीं रखता कि आपने उसे कहाँ पढ़ा है, या किसने उसे कहा है, कोई बात नहीं अगर मैंने ये कहा है, जब तक कि वो आपके अपने तर्क और समझ से मेल नही खाती।

49. एक मोमबत्ती से हजारों मोमबत्तियां जलाई जा सकती हैं, और उस मोमबत्ती का जीवन घटेगा नहीं, ख़ुशी कभी भी बांटने से घटती नहीं है।

50. यदि आप दिशा नहीं बदलते हैं तो संभवतः आप वहीँ पहुँच जायेंगे जहाँ आप जा रहे हैं।

51. चन्द्रमा की तरह, बादलों के पीछे से निकलो! चमको।

52. जिस क्षण आप सारी सहायता अस्वीकार कर देते हैं आप मुक्त हो जाते हैं।


अन्य महापुरुषों के विचार:-

  1. ऐ पी जे अब्दुल कलाम के महान विचार
  2. बी. आर. अम्बेडकर के सबसे अच्छे विचार
  3. अल्बर्ट आइंस्टीन के अनमोल विचार
  4. बिल गेट्स के 30 अनमोल विचार
  5. ब्रह्मा कुमारी शिवानी के महान विचार

हमें Comment के माध्यम से बताएं कि महात्मा बुद्ध (Gautama Buddha) के प्रेरणादायक विचार (Inspiring Thoughts) आपको कैसे लगे और हां अपने दोस्तों के साथ महात्मा बुद्ध के विचारों को Share करना न भूले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *